You are here
Home > Latest News > जामिया मिल्लिया इस्लामिया की कुलपति ने मानव संसाधन विकास मंत्री से विश्वविद्यालय के चहुं मुखी विकास पर चर्चा की

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की कुलपति ने मानव संसाधन विकास मंत्री से विश्वविद्यालय के चहुं मुखी विकास पर चर्चा की

 

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की कुलपति प्रोफेसर नजमा अख़्तर ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर से आज मुलाकात की। माननीय मंत्री से चर्चा के दौरान उन्होंने जामिया मिल्लिया इस्लामिया के विकास एवं प्रगति से संबंधित प्राथमिकताओं, ज़रूरतों, अल्प कालिक तथा दीर्घकालिक योजनाओं के बारे में विचार विमर्श किया। माननीय मंत्री ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया की पहली

महिला कुलपति बनने पर प्रो अख्तर को बधाई दी। उन्होंने कहा कि कुलपति बनने पर जामिया समुदाय और मीडिया ने जिस तरह उनका खुले दिल से स्वागत किया है, वह बहुत सकारात्मक है। उनके इस स्वागत से भारत सरकार के इस फैसले को बहुत मान मिला है। श्री जावेडकर ने

विश्वविद्यालयों की श्रेणी में मानव संसाधन विकास मंत्रालय: एनआईआरएफ: द्वारा जामिया मिल्लिया को 12 वां स्थान मिलने पर भी खुशी ज़ाहिर की। उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रो अख्तर के सक्षम नेतृत्व में जामिया मिल्लिया विभिन्न विषयों, अनुसंधानों और ज्ञान के प्रसार में उल्लेखनीय प्रगति करेगा। उन्होंने जामिया मिल्लिया में हो रहे अनुसंधान कार्यो की सराहना की।

प्रो अख्तर ने जामिया मिल्लिया के विभिन्न विभागों के रिक्त स्थानों को भरने और नए कोर्स शुरू करने में माननीय मंत्री और भारत सरकार पूर्ण समर्थन देने का आग्रह किया।  माननीय मंत्री ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया के चहुं मुखी विकास के बारे में उनसे व्यापक योजना का प्रारूप देने को कहा, जिस पर उन्होंने  आश्वासन दिया कि वह कुछ ही सप्ताह में इसे पेश करेंगी। उन्होंने कहा कि छात्रों को उनके सपने पूरे करने के लिए वह यह सुनिश्चित करेंगी कि अकादमिक और उससे जुड़ी अन्य गतिविधियां अच्छी तरह चलें।

 

प्रोफेसर अख्तर ने माननीय मंत्री से विश्वविद्यालय में दंत चिकत्सा सहित कई विषयों का स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम और लघु आवधिक पाठ्यक्रम शुरू करने को लेकर भी चर्चा की। इस बैठक में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

0Shares
Top
%d bloggers like this: